40 C
लखनऊ, उ.प्र.
28/05/2024
वंदे भारत | ख़ास खबरें | उत्तर प्रदेश
क्राइमब्रेकिंग न्यूज़सुर्खियांसुल्तानपुर न्यूज़

सुल्तानपुर में सौहार्द बिगाड़ने वालों पर खाकी मेहरबान: जानलेवा हमले के 12 आरोपियों का 151 में किया चालान, नपं चेयरमैन प्रतिनिधि ने डीजीपी से किया शिकायत

सुल्तानपुर में त्योहार पर सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश करने वाले अराजकतत्वों की ढाल खाकी बन चुकी है। जानलेवा हमले समेत अन्य गंभीर धाराओं के आरोपियों को पकड़कर बैठाने वाली पुलिस ने 48 घंटे बाद सभी का 151 में चालान करके उन्हें पूर्ण राहत देने का कार्य किया है। जिसकी शिकायत चांदा कोतवाली अंतर्गत कोइरीपुर के चेयरमैन प्रतिनिधि ने डीजीपी से करते हुए न्याय की मांग किया है।

आपको बता दें कि आरोपी विवेक पाण्डेय पुत्र बजरंगबली पाण्डेय, सोनू पुत्र चंदूकांत बरनवाल निवासी कोइरीपुर, विकास सिंह पुत्र संत सिंह निवासी रामगंज जिला प्रतापगढ़, दुर्गेश सिंह पुत्र अशोक सिंह निवासी देवसरा प्रतापगढ़, शिवम सिंह पुत्र रमेश सिंह निवासी देवसरा प्रतापगढ़, अरुणेन्द्र प्रताप सिंह पुत्र अजय प्रताप सिंह निवासी लवेदा, नीरज सिंह पुत्र इन्द्रसेन सिंह निवासी बैजलपुर, शिवम तिवारी पुत्र गिरिजा शंकर तिवारी निवासी भाऊपुर, सूरज जायसवाल पुत्र लालचंद जायसवाल निवासी ढकवा, अभिषेक सिंह पुत्र अजय सिंह निवासी देवसरा प्रतापगढ़, अनुज वर्मा पुत्र रामकुमार वर्मा, रामलाल पुत्र राम दुलार, आशीष बरनवाल पुत्र हरी ओम, धनंजय पुत्र रामजीत निवासी कोथहरा कला के विरुद्ध बलवा, जानलेवा हमले और आपराधिक कानून अधिनियम के तहत अभियोग 11 अप्रैल को चांदा थाने में दर्ज हुआ था।

आरोपियों में 12 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया और 13 अप्रैल को 151 में चालान कर दिया। सभी को एसडीएम लंभुआ की कोर्ट से बेल मिल गई। जिसके बाद कोइरीपुर चेयरमैन प्रतिनिधि कासिम राइन ने डीजीपी से शिकायत किया। उन्होंने शिकायती पत्र में उल्लेख किया है कि केस में विवेचक ने साक्ष्य का संकलन नहीं किया। और केस को प्रभावित किया जा रहा। यही नहीं उनका आरोप है कि आरोपी आपराधिक किस्म के व्यक्ति हैं। वे सभी समाज विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहते हैं। इन आरोपियों का आपराधिक इतिहास भी है।

दरअसल आपको बता दें कि ईद के दिन चांदा कोतवाली अंतर्गत कोइरीपुर कस्बे के मोहल्ला हजरतगंज में अराजकतत्वों ने सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश किया था। आरोपियों ने धारदार हथियार से हमला बोलते हुए दो सगे भाइयों इरशाद उर्फ डब्लू व अबु शाद पुत्रगण सफीक उर्फ भोला राइन निवासी मोहला रामनगर कोइरीपुर को घायल कर दिया था। दोनों को आनन फानन में सीएचसी पीपी कमैचा लाया गया था जहां उनकी हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टर ने उन्हें डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल रेफर कर दिया गया था। शनिवार शाम दोनों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है। वही आरोपी अब क्षेत्र के लोगों खुलेआम धमकी दे रहे हैं। इसको लेकर आरोपियों की धमकी भरी एक पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हुई है।

Related posts

सुल्तानपुर में बदमाशों ने युवक का गुप्तांग काटा: रास्ते में रोककर युवक को बुरी तरह मारापीटा, गंभीर हालत में राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती

रामायण काल के विजेथुआ धाम से सुल्तानपुर, अंबेडकर नगर और जौनपुर के नागरिकों का सीएम योगी करेंगे आह्वान, मेनका गांधी की पीड़ा पर 21 मई को जनसभा।

सुल्तानपुर में 2हजार की आबादी ने लगाया बैनर: नाली-खड़ंजा नहीं तो वोट नहीं, क्षेत्र में 10 साल से भाजपा का सांसद और सपा के हैं विधायक