40 C
लखनऊ, उ.प्र.
28/05/2024
वंदे भारत | ख़ास खबरें | उत्तर प्रदेश
क्राइमब्रेकिंग न्यूज़वायरल न्यूज़वीडियोसुर्खियांसुल्तानपुर न्यूज़

सुल्तानपुर में विजय नारायण सिंह की गोली मारकर हत्या की गई। डॉ घनश्याम तिवारी हत्याकांड में जमानत पर बाहर आया था। महरुआ निवासी अजय सिंह शेरावत पर गोली मारने का आरोप लगा है।

सुल्तानपुर में विजय नारायण सिंह की गोली मारकर हत्या की गई। 9 मार्च को वो डॉ घनश्याम तिवारी हत्याकांड में जमानत पर बाहर आया था। अंबेडकरनगर के महरुआ निवासी अजय सिंह शेरावत पर गोली मारने का आरोप लगा है। एसपी के अनुसार पुलिस की चार टीमें उसे पकड़ने के लिए लगातार दबिश दे रही है।

पहले जानिए घटनाक्रम

रविवार देर शाम कोतवाली नगर के दरियापुर तिराहे के पास स्थित होटल पल्लवी के निकट फायरिंग की आवाज से लोगों में हड़कंप मच गया।लोग यहां पहुंचे तो देखा कि शहर के नारायणपुर निवासी विजय नारायण सिंह लहूलुहान हालत में पड़ा है। बगल में उसका साथी शास्त्री नगर निवासी अनुज शर्मा भी घायल अवस्था में गिरा पड़ा था। विजय को सीने व पेट में कई गोलियां लगी थी। आनन-फानन में दोनों को घायलावस्था में राजकीय मेडिकल कॉलेज लाया गया जहां डॉक्टर ने विजय को ब्रॉड डेड घोषित कर दिया। वही अनुज को ट्रॉमा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया है।

दो लोगों को हिरासत में लिया गया

घटना की सूचना पर एसपी सोमेन वर्मा दल बल के साथ अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायलों का हाल जाना। मीडिया से बात करते हुए एसपी ने बताया कि जांच में ऐसा सामने आया है कि बिजनेस को लेकर ये घटना अंजाम पाई है। हमने वर्क आऊट के लिए चार टीमें लगा दी हैं। शव को पोस्टमार्टम में भेजा गया है। परिवार वालों से तहरीर मिलते ही विधिक कार्रवाई पूरी की जाएगी। फिलहाल दो लोगों को हिरासत में लिया गया है।

अंबेडकरनगर के अजय सिंह पर गोली मारने का आरोप

घटना के चश्मदीद भल्लू की माने तो मैं घटना के समय भइया (मृतक विजय नारायण सिंह) के साथ था। दोपहर एक बजे से बार में बैठे थे। दीपक मिश्रा हमारे साथ थे, उन्होंने अजय सिंह शेरावत को फोन किया। उसके बाद अजय सिंह आए और विजय नारायण से बत्तमीजी से बात किए। उनको भइया (विजय नारायण) ने हटा दिया। कुछ देर बाद वो आए और विजय और अनुज को ताबड़तोड़ गोलियां मार दी। दीपक मिश्रा भरत भूषण हत्याकांड के आरोपी हैं।

सितंबर माह में डॉक्टर हत्याकांड में जेल गया था मृतक विजय

23 सितंबर 2023 की शाम नारायणपुर में डॉ घनश्याम तिवारी की गोली मारकर हत्या की गई थी। इस मामले में डॉ की पत्नी की तहरीर पर भाजयुमो जिलाध्यक्ष चंदन नारायण सिंह के चचेरे भाई अजय नारायण सिंह समेत अज्ञात के विरुद्ध केस दर्ज हुआ था। पुलिस ने अगले दिन अजय के पिता जगदीश नारायण सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। सातवें दिन विजय नारायण सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उसके बाद 9 अक्टूबर को अजय नारायण व उसके ड्राइवर ने पुलिस चौकी में सरेंडर किया था। हाल ही में विजय नारायण हाईकोर्ट से जमानत पर बाहर आया था।

Related posts

सुल्तानपुर में 2हजार की आबादी ने लगाया बैनर: नाली-खड़ंजा नहीं तो वोट नहीं, क्षेत्र में 10 साल से भाजपा का सांसद और सपा के हैं विधायक

सुल्तानपुर के गठबंधन प्रत्याशी भीम का‌ ऐलान, मेनका गांधी ने बनाया सर्पाकार डिवाइडर और हम बनाएंगे इमरती वाला पुल

Ashutosh Pandey

सुल्तानपुर में बदमाश पुलिस मुठभेड़, रात के अंधेरे में लुटेरे को किया गिरफतार